रिश्ते शायरी | Rishte Dhoka Shayari

नमस्ते, कहते है रिश्ता भगवान बनाता है,लेकिन कुछ रिश्ते ऐसे होते है की जनम जनम का साथ निभाता है। ऐसे ही रिश्ते के शायरी लेकर आए है rishte dhoka shayari, rishte shayari, badalte rishte shayari, rishte shadi shayari, matlabi rishte shayari, rishte shayari in hindi, rishte waqt shayari, sad rishte shayari, rishte family shayari, रिश्ते शायरी 2 लाइन, सच्चे रिश्ते शायरी, झूठे मतलबी रिश्ते शायरी ये शेयर कीजिये।

Rishte Dhoka Shayari

रिश्ता वो नही जिसमे जीत और हार हो, रिश्ता वो नही जिसमे इज़हार और इनकार हो, रिश्ता तो वो है जिसमे एक रुठने मे एक्सपर्ट हो, तो दूसरा मनाने मे परफेक्ट हो…

सबसे सुंदर रिश्ता आँखों का होता है, एक साथ खुलते है, एक साथ बंद होते है, एक साथ रोते है, और वो भी जीवन भर एक दूसरे को देखे बिना…

रिश्ते कभी भी कुदरती मौत नही मरते, इनको हमेशा इंसान ही कतल करता है, नफरत से, नजर अंदाजी से, तो कभी गलतफहमी से…

अपनों को हमेशा अपने होने का, एहसास दिलाते रहो, वरना वक्त आप के अपनों को, आप के बिना जीना सीखा देगा…

कोशिश करो कि कोई तुम से ना रूठे, ज़िंदगी में अपनों का कभी साथ ना छूटे, रिश्ता कोई भी हो उसे ऐसे निभाओ, कि उस रिश्ते की डोर ज़िंदगी भर ना टूटे।

किसी भी रिश्ते को तोडने से पहले, एक बार अपने आप से जरूर पूछ लिजियेगा की, आज तक उस रिश्ते को निभा क्यो रहे थे…

कुछ खुबसूरत पल याद आते है, पलकों पर आँसू छोड जाते है, कल कोई और मिले ना मिले हमे ना भूलना, क्योंकी कुछ रिश्ते जिंदगी भर याद आते है…

आशाए ऎसी हो जो मंजील तक ले जाए, मंजील ऎसी हो जो जीवन जीना सिखा दे, जीवन ऎसा हो जो रिश्तों की कदर करे, और रिश्ते ऎसे हो जो याद करने को मजबूर कर दे…

दिन बीत जाते है कहानी बनकर, यादें रह जाती है निशानी बनकर, पर रिश्ते हमेशा रहते है, कभी ओंठो की मुस्कान बनकर, तो कभी आँखों का पानी बनकर…

दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वही होता है, जहा एक हलकी सी मुस्कुराहट और छोटी सी माफी से, जिंदगी दोबारा पहले जैसी हो जाती है…

यह भी देखे 👇

मोहब्बत शायरी | Mohabbat Shayari

खूबसूरत रिश्ते शायरी

रिश्ता कई लोगों से होता है, पर कोई दिल से निभाता है, तो कोई नफरत से निभाता है…

रिश्ते कभी जिंदगी के साथ साथ नहीं चलते; रिश्ते एक बार बनते हैं और फिर जिंदगी रिश्तों के साथ साथ चलती है।

जीत की आदत अच्छी होती है लेकिन कुछ रिश्तों में हार जाना बेहतर होता है।

किसी को पलकों में ना बसाओ; क्योंकि पलकों में सिर्फ सपने बसते हैं; अगर बसाना है तो दिल में बसाओ; क्योंकि दिल में सिर्फ अपने बसते हैं।

मैंने रिश्तों को संभाला है मोतियों की तरह, कोई गिर भी जाये तो झुक कर उठा लेता हूँ।

खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है, जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बन जाता है; कुछ लोग ज़िंदगी में मिलते हैं ऐसे, जिनसे कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है।

रिश्तों में सदा प्यार की मिठास रहे; कभी न मिटने वाला एक एहसास रहे; कहने को तो छोटी सी है यह जिंदगी; मगर दुआ है कि सदा आपका साथ रहे।

रिश्तों की सिलाई: अगर भावनाओं से हुई है, तो टूटना मुश्किल है; और अगर स्वार्थ से हुई है, तो टिकना मुश्किल है।

दुनिया का सबसे बेहतरीन रिश्ता वही होता है जहाँ एक हलकी सी मुस्कुराहट और छोटी सी माफ़ी से जिंदगी पहले जैसी हो जाती है।

रिश्ते कभी जिंदगी के साथ साथ नहीं चलते, रिश्ते एक बार बनते हैं, फिर जिंदगी रिश्तों के साथ साथ चलती है।

कुछ रिश्तों में इंसान अच्छा लगता है और कुछ इंसानों से रिश्ता अच्छा लगता है।

मशहूर होना लेकिन कभी मगरूर मत होना; छू लो कदम कामयाबी के लेकिन अपनों से कभी दूर मत होना; ज़िन्दगी में खूब मिल जाएगी दौलत और शौहरत मगर; अपने ही आखिर अपने होते हैं यह बात कभी भूल ना जाना।

Badalte rishte shayari | Rishte dhoka shayari

बिना विश्वास का रिश्ता बिना नेटवर्क के मोबाइल जैसा है क्योंकि बिना नेटवर्क वाले मोबाइल के साथ लोग सिर्फ “Game” ही खेलते हैं।

अपने रिश्तों को बारिश की तरह न बनाये, जो आये और चली जाये; बल्कि रिश्ते ऐसे बनाये जो हवा की तरह हमेशा आपके अंग संग रहें।

पानी से तस्वीर कहाँ बनती है; ख्वाबों से तकदीर कहाँ बनती है; किसी भी रिश्ते को सच्चे दिल से निभाओ; क्योंकि ये ज़िन्दगी फिर वापस कहाँ मिलती है।

करीब इतना रहो कि सब रिश्तों में प्यार रहे; दूर भी इतना रहो कि आने का इंतज़ार रहे; रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियान इतनी; कि टूट जाये उम्मीद मगर रिश्ते बरक़रार रहें।

अकसर वही रिश्ता लाजवाब होता है, जो ज़माने से नहीं ज़ज़्बातों से जन्मा होता है।

जो कोई समझ न सके वो बात हैं हम; जो ढल के नयी सुबह लाये वो रात हैं हम; छोड़ देते हैं लोग रिश्ते बनाकर; जो कभी न छूटे वो साथ हैं हम।

रिश्ते काँच की तरह होते हैं; टूट जाएं तो चुभते हैं; इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना; क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल; और बनाने मे बरसो लग जाते हैँ।

दिल के रिश्ते शायरी | Rishte dhoka shayari

खामोश चेहरे पर हज़ारों पहरे होते हैं; हँसती आँखों में भी ज़ख़्म गहरे होते हैं; जिनसे अक्सर रूठ जाते हैं हम; असल में उनसे ही तो रिश्ते और गहरे होते हैं।

साथ रहते-रहते यूँ ही वक़्त गुजर जायेगा; दूर होने के बाद कौन किसे याद आएगा; जी ले ये पल जब हम साथ हैं; कल का क्या पता वक़्त कहाँ ले जायेगा।

रिश्ते और रास्ते एक ही सिक्के के दो पहलू हैं; कभी रिश्ते निभाते निभाते रास्ते खो जाते हैं; और कभी रास्ते पर चलते चलते रिश्ते बन जाते हैं।

कुछ मीठे पल याद आते हैं; पलकों पर आँसू छोड़ जाते हैं; कल कोई और मिल जाये तो हमें न भूलना; क्योंकि कुछ रिश्ते उम्र भर काम आते हैं।

Rishte shadi shayari

ना छुपाना कोई बात दिल में हो अगर; रखना थोड़ा भरोसा हम पर; हम निभाएंगे प्यार का यह रिश्ता इस कदर; कि भुलाने पर भी ना भुला पाओगे हमें ज़िंदगी भर।

दूर हो जाने से रिश्ते नहीं टूटते; न ही सिर्फ पास रहने से जुड़ते हैं; ये तो दिलों के बंधन हैं इसलिए; हम तुम्हें और तुम हमें नहीं भूलते।

कोई टूटे तो उसे बनाना सीखो; कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो; रिश्ते तो मिलते हैं मुक़द्दर से बस; उन्हें ख़ूबसूरती से निभाना सीखो।

यहाँ कौन किसका रकीब होता है; कौन किसका हबीब होता है; बन जाते हैं रिश्ते इस दुनिया में; जहाँ जहाँ जिसका नसीब होता है।

दौलत की भूख ऐसी थी कि कमाने निकल गए; दौलत मिली तो हाथ से रिश्ते निकल गए; बच्चों के साथ रहने की फुर्सत ना मिल सकी; और जब फुर्सत मिली तो बच्चे खुद ही दौलत कमाने निकल गए।

रिश्ते काँच की तरह होते हैं; टूटे जाए तो चुभते हैं; इन्हे संभालकर हथेली पर सजाना; क्योंकि इन्हें टूटने मे एक पल; और बनाने मे बरसो लग जाते हैं।

स्वार्थ से रिश्ते बनाने की कितनी भी कोशिश करो यह बनेगा नहीं, और प्यार से बने रिश्ते को तोड़ने की कितनी भी कोशिश करो यह टूटेगा नहीं।

जीवन में ज़ख़्म बड़े नहीं होते, उनको भरने वाले बड़े होते हैं; रिश्ते बड़े नहीं होते लेकिन उनको निभाने वाले लोग बड़े होते हैं।

हर रिश्ते में मिलावट देखी; कच्चे रंगों की सजावट देखी; लेकिन सालों-साल देखा है माँ को; उसके चेहरे पे ना कभी थकावट देखी; ना ममता में कभी कोई मिलावट देखी।

Matlabi rishte shayari | Rishte dhoka shayari

कोशिश करो कि कोई तुम से ना रूठे; ज़िंदगी में अपनों का कभी साथ ना छूटे; रिश्ता कोई भी हो उसे ऐसे निभाओ; कि उस रिश्ते की डोर ज़िंदगी भर ना टूटे।

रिश्ते और पौधे दोनों एक जैसे होते हैं; लगाकर भूल जाओ तो दोनों ही सूख जाते हैं।

यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए; कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए; रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं; बस दिलों में प्यार चाहिए उन्हें निभाने के लिए।

छोटी सी बात पे लोग रूठ जाते हैं; हाथ उनसे अनजाने में छूट जाते हैं; कहते हैं बड़ा नाज़ुक है अपनेपन का यह रिश्ता; इसमें हँसते-हँसते भी दिल टूट जाते हैं।

रिश्तों की ही दुनिया में अक्सर ऐसा होता है; दिल से इन्हें निभाने वाला ही अक्सर रोता है; झुकना पड़े तो झुक जाना अपनों के लिए; क्योंकि हर रिश्ता एक नाज़ुक समझौता होता है।

रिश्तों का विश्वास टूट ना जाये; दोस्ती का साथ कभी छूट ना जाये; ऐ खुदा गलती करने से पहले संभाल लेना मुझे; कहीं मेरी गलती से मेरा कोई अपना रूठ ना जाये।

यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए; कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए; रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं; बस दिलों में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए।

कुछ रिश्ते इस जहान में ख़ास होते हैं; हवा के रुख से जिन के एहसास होते हैं; यह दिल की कशिश नहीं तो और क्या हैं; दूर रह कर भी वो दिल के कितने पास होते हैं।

लोग झूठ कहते हैं कि दीवारों में दरारें पड़ती हैं; हक़ीक़त तो यह है कि जब रिश्तों में दरारें पड़ती हैं तब दीवारें बनती हैं।

Rishte shayari in hindi

फूल इसलिए अच्छे, कि खुश्बू का पैगाम देते हैं; कांटे इसलिए अच्छे, कि दामन थाम लेते हैं; दोस्त इसलिए अच्छे, कि वो मुझ पर जान देते हैं; और दुश्मनों को, कैसे ख़राब कह दूँ वो ही तो हैं; जो हर महफ़िल में मेरा नाम लेते हैं।

रिश्ते खून के नहीं होते, रिश्ते एहसास के होते हैं; अगर एहसास हो तो अजनबी भी अपने होते हैं; और अगर एहसास ना हो तो अपने भी अजनबी हो जाते हैं।

दिल से बने रिश्तों का नाम नहीं होता; इनका कभी भी निरर्थक अंजाम नहीं होता; अगर निभाने का हो जज्बा दोनों तरफ; तो ये पाक रिश्ता कभी बदनाम नहीं होता।

अपने रिश्तों को बारिश की तरह न बनाये, जो आये और चली जाये; बल्कि रिश्ते ऐसे बनाये जो हवा की तरह हमेशा आपके अंग संग रहें।

लगे न नज़र इस रिश्ते को ज़माने की; पड़े न ज़रुरत कभी एक-दूजे को मनाने की; छोड़ना न कभी आप हमारा ये साथ; तमन्ना हमारी भी है इसे मौत तक निभाने की।

ज़िंदगी नहीं हमें ये रिश्ता है प्यारा; रिश्तों के प्यार से ही खिलता है दिल हमारा; आँखों में हमारी आँसू है तो क्या गम है; इस बात की ख़ुशी है कि मुस्कुरा रहा है कोई जान से प्यारा।

रिश्तों में सदा प्यार की मिठास रहे; कभी न मिटने वाला एक एहसास रहे; कहने को तो छोटी सी है यह जिंदगी; मगर दुआ है कि सदा आपका साथ रहे।

दिमाग पर ज़ोर लगाकर गिनते हो गलतियां मेरी; कभी दिल पर हाथ रख के पूछना कसूर किसका है।

यादें अक्सर होती हैं सताने के लिए; कोई रूठ जाता है फिर मान जाने के लिए; रिश्ते निभाना कोई मुश्किल तो नहीं; बस दिलों में प्यार चाहिए उसे निभाने के लिए।

Sad rishte shayari | Rishte dhoka shayari

खूबसूरत सा एक पल किस्सा बन जाता है; जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बन जाता है; कुछ लोग ज़िंदगी में मिलते हैं ऐसे; जिनसे कभी ना टूटने वाला रिश्ता बन जाता है।

हर रिश्ते में मिलावट देखी; कच्चे रंगों की सजावट देखी; लेकिन सालों साल देखा है माँ को; उसके चेहरे पे ना थकावट देखी; ना ममता में कभी मिलावट देखी।

रिश्ते इलेक्ट्रिक करंट की तरह होते हैं, गलत जुड़ जायें तो ज़िन्दगी भर झटके देते हैं, और अगर सही जुड़ जायें तो आपका पूरा जीवन प्रकाशमान कर देते हैं।

रिश्ते वो होते हैं, जिसमे शब्द कम और समझ ज्यादा हो; जिसमे तकरार कम और प्यार ज्यादा हो; जिसमे आशा कम और विश्वास ज्यादा हो।

मशहूर होना पर कभी मगरूर न होना; कामयाबी के नशे में कभी चूर न होना; अगर मिल भी जाये सारी कायनात आपको; अपनों से फिर भी कभी दूर न होना।

छोटी सी बात पे लोग रूठ जाते हैं; हाथ उनसे अनजाने में छूट जाते हैं; कहते हैं बड़ा नाज़ुक है अपनेपन का रिश्ता; इसमें हँसते-हँसते भी दिल टूट जाते हैं।

Rishte family shayari

करीब इतना रहो कि रिश्तों में प्यार रहे; दूर भी इतना रहो कि आने का इंतज़ार रहे; रखो उम्मीद रिश्तों के दरमियान इतनी; कि टूट जाये उम्मीद मगर रिश्ते बरक़रार रहें।

कुछ रिश्ते अनजाने में बन जाते हैं; पहले दिल से फिर ज़िंदगी से जुड़ जाते हैं; क्या कहते हैं उस दौर को; जिसमे अनजाने न जाने कब अपने बन जाते हैं।

लोग रिश्ते बना कर यूँ तोड़ जाते हैं; बेवजह हमसे यूँ ही रूठ जाते हैं; मिलने पर राह में अजनबी कहते हैं; लगता है शायद यही दुनिया का दस्तूर कहलाता है।

जो कोई समझ न सके वो बात हैं हम; जो ढल के नयी सुबह लाये वो रात हैं हम; छोड़ देते हैं लोग रिश्ते बनाकर; जो कभी न छूटे वो साथ हैं हम।


HindiStatusNow.com वेबसाइट आपको कैसी लगी और रिश्ते शायरी | Rishte Dhoka Shayari पोस्ट कैसी लगी कमेंट में बताइये,धन्यवाद


यह भी देखे 👇

Leave a Comment